ऐ ज़िन्दगी Aye Zindagi Lyrics Hindi – 1920 Horrors Of The Heart

ऐ ज़िन्दगी Aye Zindagi Lyrics Hindi – 1920 Horrors Of The Heart: This song is sung by Esha Gaur, Farhaan Sabri and composed by Puneet Dixit while the lyrics are written by Shweta Bothra. Starring Avika Gor, Rahul Dev, Barkha Bisht & Danish Pandor. Our team is sharing the lyrics of the Aye Zindagi Song through this article so that you can remember the lyrics of the song without any errors.

Song Credits:

  • Song: Aye Zindagi
  • Movie: 1920 Horrors Of The Heart
  • Singer(s): Esha Gaur & Farhaan Sabri
  • Composer: Puneet Dixit
  • Lyricist: Shweta Bothra
  • Label: Zee Music Company

ऐ ज़िन्दगी Aye Zindagi Lyrics Hindi – 1920 Horrors Of The Heart:

ऐ जिंदगी, ये कैसा गम
ना दुआ लगे, ना ही दम
नफ़रतों की आग में
इश्क बदला राख में
कैसी जगह, देखो पाहुंचे हम
ऐ जिंदगी, ये कैसा गम..!!
कैसा ग़म..!!

ये हुआ जो भी हुआ है
दिल की है ये खता
दिल की है ये खता
ऐ खुदा, इस रात की
सुबह कहां है, बता
सुबह कहां है, बता
ये हुआ जो भी हुआ है
दिल की है ये खता
ऐ खुदा, इस रात की सुबह कहां है, बता
ऐ जिंदगी, ये कैसा गम

कौन हूं, ये मैं कौन हूं
खुद को मैंने कहां खो दिया
है कहाँ रहबर, तू कहाँ
तुझको ढूंढ़े ज़मीन, आसमान
कांप्ता है ये दिल मेरा
होने को है वो जो है अनकाहा
घुट रहा ख्वाबों का दम
ये रात कब होगी खत्म
कैसी जगह, देखो पहुंचे हम
ऐ जिंदगी, ये कैसा गम, कैसा गम..!!
ये हुआ जो भी हुआ है
दिल की है ये खता
दिल की है ये खता
ऐ खुदा, इस रात की
सुबह कहां है, बता
सुबह कहां है, बता
ये हुआ जो भी हुआ है, दिल की है ये खता
ऐ खुदा, इस रात की सुबह कहां है, बता

ये हुआ जो भी हुआ है
दिल की है ये खता
दिल की है ये खता
ऐ खुदा, इस रात की
सुबह कहां है, बता
सुबह कहां है, बता
ये हुआ जो भी हुआ है, दिल की है ये खता
ऐ खुदा, इस रात की सुबह कहां है, बता

Read More:

Aye Zindagi Lyrics Shweta Bothra:

Aye zindagi, ye kaisa gham
Na duaa lage, na hi dum
Nafraton ki aag mein
Ishq badla raakh mein
Kaisi jagah, dekho pahunche hum
Aye Zindagi, Ye Kaisa Gham..!!
Kaisa Gham..!!

Yeh hua jo bhi hua hai
Dil ki hai yeh khata
Dil ki hai yeh khata
Aye khuda, is raat ki
Subah kahan hai, bata
Subah kahan hai, bata
Yeh hua jo bhi hua hai
Dil ki hai yeh khata
Aye khuda, is raat ki subah kahan hai, bata
Aye zindagi, yeh kaisa gham

Kaun hoon, ye main kaun hoon
Khud ko maine kahan kho diya
Hai kahan rehbar, tu kahan
Tujhko dhoondhe zameen, aasmaan
Kaanpta hai yeh dil mera
Hone ko hai woh jo hai ankaha
Ghut raha khwaabon ka dum
Ye raat kab hogi khatam
Kaisi jagah, dekho pahunche hum
Aye zindagi, yeh kaisa gham, kaisa gham..!!
Yeh hua jo bhi hua hai
Dil ki hai yeh khata
Dil ki hai yeh khata
Aye khuda, is raat ki
Subah kahan hai, bata
Subah kahan hai, bata
Yeh hua jo bhi hua hai, dil ki hai yeh khata
Aye khuda, is raat ki subah kahan hai, bata

Yeh hua jo bhi hua hai
Dil ki hai yeh khata
Dil ki hai yeh khata
Aye khuda, is raat ki
Subah kahan hai, bata
Subah kahan hai, bata
Yeh hua jo bhi hua hai, dil ki hai yeh khata
Aye khuda, is raat ki subah kahan hai, bata

error: Content is protected !!